Connect with us

Hindi News

Coronavirus: Delhi University postponed online classes till May 16 – कोरोना का बढ़ता कहर, दिल्ली यूनिवर्सिटी ने ऑनलाइन कक्षाएं 16 मई तक स्थगित की

Published

on

Coronavirus: Delhi University postponed online classes till May 16 – कोरोना का बढ़ता कहर, दिल्ली यूनिवर्सिटी ने ऑनलाइन कक्षाएं 16 मई तक स्थगित की


Coronavirus: Delhi University postponed online classes till May 16 – कोरोना का बढ़ता कहर, दिल्ली यूनिवर्सिटी ने ऑनलाइन कक्षाएं 16 मई तक स्थगित की

दिल्ली यूनिवर्सिटी ने ऑनलाइन कक्षाएं 16 मई तक स्थगित की.

नई दिल्ली:

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर 16 मई तक ऑनलाइन कक्षाएं स्थगित कर दी है. छात्र संगठनों और अध्यापकों ने ऑनलाइन कक्षाओं को स्थगित करने की मांग की थी. विश्वविद्यालय ने मंगलवार को जारी एक अधिसूचना में कहा, ‘‘कोविड-19 के मामलों में अचानक तेज बढ़ोतरी के कारण विश्वविद्यालय के विभागों और कॉलेजों में 16 मई तक ऑनलाइन कक्षाएं स्थगित रहेगी.”

यह भी पढ़ें

दिल्ली यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन (डूटा) ने इस मुद्दे पर विश्वविद्यालय के कार्यवाहक कुलपति प्रोफेसर पीसी जोशी को एक पत्र लिखा था.

डूटा ने कहा था, ‘‘छात्र और उनके परिवार के सदस्य महामारी से जूझ रहे हैं जिसके कारण कक्षाओं में उपस्थिति घट गयी है. इसलिए डूटा की मांग है कक्षाएं स्थगित की जाए, क्योंकि छात्र और अध्यापक पठन-पाठन की प्रक्रिया को जारी करने के लिए मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार नहीं हैं.”

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Hindi News

Decision Regarding RBSE Class 10, 12 Board Exams To Be Announced By Govt Soon – राजस्थान बोर्ड 2021: जानें- क्या रद्द होगी 10वीं-12वीं की परीक्षा, जल्द आएगा फैसला

Published

on

Decision Regarding RBSE Class 10, 12 Board Exams To Be Announced By Govt Soon – राजस्थान बोर्ड 2021: जानें- क्या रद्द होगी 10वीं-12वीं की परीक्षा, जल्द आएगा फैसला


Decision Regarding RBSE Class 10, 12 Board Exams To Be Announced By Govt Soon – राजस्थान बोर्ड 2021: जानें- क्या रद्द होगी 10वीं-12वीं की परीक्षा, जल्द आएगा फैसला

नई दिल्ली:

राजस्थान सरकार ने अभी तक RBSE कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के आयोजन या रद्द करने पर कोई फाइनल निर्णय नहीं लिया है, हालांकि अधिकारियों द्वारा जल्द ही इस निर्णय की घोषणा किए जाने की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (RBSE) ने पहले इस शैक्षणिक सत्र के लिए कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने की घोषणा की थी, लेकिन छात्र अभी भी वर्तमान कोविड -19 स्थिति को ध्यान में रखते हुए बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने पर जोर दे रहे हैं.

राजस्थान के CM अशोक गहलोत ने पहले घोषणा की थी, “कोरोनावायरस की दूसरी लहर को देखते हुए, राजस्थान सरकार ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है. इसने राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, अजमेर द्वारा आयोजित कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है.

अब, बोर्ड आगामी कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के आयोजन या रद्द करने के संबंध में फाइनल  निर्णय की घोषणा करेगा. यह भी उम्मीद है कि राज्य सरकार बोर्ड परीक्षाओं को और स्थगित कर देगी.

CBSE, राज्य बोर्ड की परीक्षाएं स्थगित की गई

राजस्थान बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने का निर्णय केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा कक्षा 12वीं की परीक्षाओं को स्थगित करने और कक्षा 10वीं की परीक्षाओं को रद्द करने के फैसले के तुरंत बाद आया.

कई राज्य सरकारों ने भी सीबीएसई द्वारा की गई घोषणा के बाद बोर्ड परीक्षाओं को आगे स्थगित करने का निर्णय लिया. कई राज्यों ने सीबीएसई के नक्शेकदम पर चलते हुए अपने स्कूलों में कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी है.

कई राज्यों में कोविड -19 मामलों के अचानक बढ़ने के कारण कई छात्र और अभिभावक देश भर में आगामी कक्षा 10वीं और 12वीम की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने पर जोर दे रहे हैं, हालांकि कक्षा 12वीं की परीक्षा अभी तक किसी भी राज्य ने  रद्द नहीं की है.

राजस्थान सरकार को वर्तमान में माता-पिता, शिक्षकों और छात्रों द्वारा उम्मीदवारों के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए आगामी बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है. हालांकि, इस संबंध में अभी तक राज्य सरकार की ओर से कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है.



Source link

Continue Reading

Hindi News

Lockdown Extended In Delhi For One Week : CM Arvind Kejriwal – दिल्ली में लॉकडाउन एक हफ्ते के लिए और बढ़ाया गया – CM अरविंद केजरीवाल

Published

on

Delhi Extended Lockdown By Another Week To Check Covid Spread


Delhi Extended Lockdown By Another Week To Check Covid Spread

(फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली में कोरोनावायरस (Coronavirus) के नए मामलों में कमी के बीच सरकार ने लॉकडाउन (Lockdown) को बढ़ाने का फैसला किया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने रविवार को इस बात की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि कोरोना पर नियंत्रण के लिए लागू लॉकडाउन को एक हफ्ते के लिए बढ़ाया जा रहा है. 



Source link

Continue Reading

Hindi News

Tamil Nadu: Corona Patients Attendants Risk Becoming Super Spreaders, Government Strict Instructions – तमिलनाडु में COVID मरीजों के अटेंडेंट बढ़ा रहे हैं कोरोना का खतरा, सरकार ने अस्पतालों को दी सख्त हिदायत

Published

on

Tamil Nadu: Corona Patients Attendants Risk Becoming Super Spreaders, Government Strict Instructions – तमिलनाडु में COVID मरीजों के अटेंडेंट बढ़ा रहे हैं कोरोना का खतरा, सरकार ने अस्पतालों को दी सख्त हिदायत


चेन्नई:

तमिलनाडु के स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को आदेश दिया है कि कोविड अस्पतालों में मरीज के अटेंडेंट को आइसोलेशन वार्ड में जाने की अनुमति नहीं होगी. तमिलनाडु सरकार का यह आदेश NDTV पर खबर दिखाए जाने के बाद लिय़ा गया, जहां बताया गया था कि किस तरह से मरीज के परिजन बिना रोक टोक के कोविड आइसोलेशन वार्ड में आ जा रहे हैं. अस्पतालों में कोविड प्रोटोकॉल की यह अनदेखी लोगों की जान के लिए खतरनाक साबित हो सकती है. सरकारी अस्पताल इसके लिए डॉक्टरों और नर्सों की कमी का हवाला दे रहे हैं. 

यह भी पढ़ें

पिछले दिनों राजीव गांधी अस्पताल के कोविड ब्लॉक में NDTV की टीम पहुंची थी. वहां जो हालात थे उन पर विश्वास करना आसान नहीं था. लगभग हर कोविड बिस्तर पर मरीज का अटेंडेंट मौजूद थे. कोई अपने मरीज को खुद खाना खिला रहा था तो कोई पंखे से हवा कर रहा था. वहीं कुछ लोग मरीजों के साथ सिर्फ बातचीत करते हुए भी देखे गए थे. कुछ जगह तो मरीज और अटेंडेंट एक ही बिस्तर पर बैठे भी दिखाई  दिए थे. किसी भी मरीज के परिजन ने न तो PPE किट पहनी थी और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते नजर आए. 

nd0png9

अस्पताल के गलियारे में लगी कुर्सियों पर भी कुछ मरीजों के परिजन बिना रोक टोक आराम फरमाते और बाते करते दिखाई दिए. जबकि वहीं एक बोर्ड टंगा था. जिस पर लिखा था कि ‘विजिटर्स आर नॉट अलाउड’. वहां मौजूद गार्ड भी किसी भी परिजन को अंदर जाने से नहीं रोक रहा था. इन परिजनों से जब कोविड नियमों की चर्चा की गई थी तो उन्होंने अस्पताल पर आरोप लगाते हुए इसे अपनी मजबूरी करार दिया. उन्होंने कहा कि अस्पताल में ऑक्सीजन के अलावा किसी भी तरह की मेडिकल मदद नहीं मिलती है. 

तमिलनाडु के स्वास्थ्य सचिव जे राधाकृष्णन ने इस मामले पर NDTV से बताया कि कई बार अस्पतालों को इस बाबत चेतवानी जारी की जा चुकी है. कोविड वार्डों में अटेंडेंटों का जाने देना एक बड़ी गलती है. उन्होंने कहा कि कुछ जगहों पर वास्तविक जरुरतों के आधार पर परिजनों को मरीज के पास जाने की इजाजत दी जाती है लेकिन उसके लिए PPE किट पहनना तथा दूसरे प्रोटोकॉल्स का पालन अनिवार्य होता है. उन्होंने कहा कि अस्पतालों में स्टाफ की कमी के चलते हम और लोगों की जान जोखिम में नहीं डाल सकते हैं. 

 



Source link

Continue Reading

Trending