Connect with us

Hindi News

Coronavirus vaccine: Precautions you must take before and after COVID-19 Vaccine | dos and donts of Covid-19 vaccine | What to do before, during and after getting vaccinated

Published

on

Coronavirus vaccine: Precautions you must take before and after COVID-19 Vaccine | dos and donts of Covid-19 vaccine | What to do before, during and after getting vaccinated


अगर किसी तरह आप अपने लिए कोविड 19 वैक्सीन का स्लोट तैयार करने में कामियाब हो गए हैं, तो कुछ ऐसी बातें भी हैं जिनका आपको वैक्सीन लेने से पहले और कोविड 19 वैक्सीन लेने के बाद ध्यान रखना होगा. 

तो चलिए बिना वक्त जाया किए जानते हैं कि कोविड 19 वैक्सीन से पहले क्या करें और क्या नहीं (Coronavirus Vaccine: Do’s and Don’ts of Covid-19 Vaccine)

1. रखें एलर्जी का ध्यान

सबसे पहली बात, अगर आपको किसी दवा या ड्रग से कोई एलर्जी है तो अपने डॉक्टर से बात करें. हो सकता है कि इसके लिए डॉक्टर आपको पहले CBC यानी के कंप्लीट ब्लड काउंट टेस्ट कराने की सलाह दे दे. इसके अलावा CRP यानी सी-क्रिएटिव प्रोटीन या IgE यानी इम्यूनोग्लोबिन-ई लेवल के टेस्ट कराने की सलाह डॉक्टर दे सकता है.

2. डॉक्टर से सलाह जरूर लें अगर 

– अगर आप कोई दवा रेगुलर ले रहे हैं जैसे थायराइड या बीपी की या किसी दूसरे परेशानी के लिए आप नियमित दवा ले रहे हैं, तो पहले अपने डॉक्टर से बात जरूर कर लें. उसकी सलाह के अनुसार ही दवा की डोज रखें. 

– अगर आप डायबिटीज या ब्लड प्रेशर की समस्या से जूझ रहे हैं, तो पहले टेस्ट जरूर कराएं. अपने डॉक्टर से हालात को अच्छी तरह समझ की टीके के लिए जाएं. 

– वहीं, कैंसर के रोगि‍यों को भी खास ध्यान रखने की जरूरत है. कीमोथैरेपी चल रही है तो कोई भी कदम बिना डॉक्टरी सलाह के न उठाएं.

3. अगर कोविड हो चुका है तो… 

बहुत से लोग ऐसे हैं, जो कोविड 19 को मात देकर सेहत के रास्ते पर लौट आए हैं. इन लोगों के मन में अब सवाल है कि इन्हें टीका लेना चाहिए या नहीं. तो ध्यान रखें कि वो लोग जो जो लोग एक-डेढ़ महीने पहले संक्रमित हुए हैं या जिन्होंने कोविड-19 के इलाज के दौरान ब्लड प्लाज्मा या मोनोक्लोनल एंटीबॉडीज ली हैं वे अभी वैक्सीन न लें. 

4. क्या करें अगर वैक्सीन लेने के बाद भी हुआ हो कोविड का संक्रमण 

अगर आपके साथ ऐसा हुआ है कि आपने कोरोना वैक्सीन का पहला डोज ले लिया और उसके बाद आप संक्रमित हो गए थे. तो दूसरी डोज डॉक्टर की सलाह पर ही लें. यह कहा जा रहा है कि ऐसे मामलों में कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज को कुछ हफ्ते के लिए टाल देना चाहिए. लेकिन आप डॉक्टरी सलाह के अनुसार ही चलें.

5. हां, अब बात आती है खाने की

भई आज टीका लगना है, तो टीके से पहले कुछ खाएं या नहीं खाएं. वैक्सीन लेने से पहले अच्छे से खाना खाएं. बहुत भारी या तलीभुनी चीजों का सेवन न करें. एंग्जाइटी को कंट्रोल करने के लिए सादा आहार लें. 

Fact Check: Homeopathy Medicine For Oxygen! | Aspidosperma Q ऑक्सीजन लेवल बढ़ाती है? Doctor से जानें


कोविड 19 की वैक्सीन लेने के बाद किन बातों का ध्यान रखें

वैक्सीन लेने के बाद जिन बातों का खास ध्यान रखना है उनके बारे में आपको सेंटर पर भी बताया जाएगा. लेकिन अगर ऐसा न हो तो… तो आपको खुद भी पता होना चाहिए कि वैक्सीन के बाद कौन-कौन से काम नहीं करने हैं. 

1. तो सबसे जरूरी बातें जिनका ध्यान आपको रखना है वह यह कि वैक्सीन लेने के बाद खुद पर नजर रखें. जी हां, खुद पर नजर रखने का मतलब है ध्यान दें कि कहीं आपको खतरनाक एलेर्जिक रिएक्शन तो नहीं दिख रहे हैं. ऐसा हो तो डॉक्टर को इस बारे में बताएं. 

2. अब नजर रखने का मतलब यह नहीं है कि इंजेक्शन वाले हिस्से पर हल्का दर्द या बुखार आने पर ही आप घबरा जाएं. यह साधारण से लक्षण हैं. इनमें घबराएं नहीं आप हाइजीन का पूरा ध्यान रखें. इंजेक्शन वाली जगह पर दर्द होने पर आप हल्का गीला कपड़ा लगा सकते हैं, इससे आराम मिलेगा. इनके अलावा टीके के बाद आपको ठंड या थकावट महसूस होने जैसे लक्षण भी दिख सकते हैं. ये लक्षण कुछ ही दिन चलते हैं. पर इन पर नजर रखें परेशानी बढ़ने पर डॉक्टरी सलाह लें.

3. वैक्सीन लगने के बाद पेय पदार्थों का खूब सेवन करें. पौष्टिक आहार लें. नींद का ख्याल रखें. एल्कोहल और स्मोकिंग का सख्ती के साथ परहेज करें. 

4. ध्यान रहे कि वैक्सीन आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बना कर बाहरी संक्रमण से लड़ने के लिए और ताकतवर बनाती है. लेकिन ऐसा वैक्सीनेशन के तुरंत बाद नहीं होता. टीका लगने के बाद भी वायरस के खिलाफ इम्यूनिटी डेवलप होने में कुछ हफ्तों का समय लग सकता है. तो वैक्सीन लगने के बाद भी सुरक्षा के नियमों को भूल न जाएं. वैक्सीन के बाद भी फेस मास्क, हैंड वॉश, हाइजीन और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पूरा ख्याल रखें.

अस्वीकरण: इस लेख के भीतर व्यक्त की गई राय लेखक की निजी राय है. एनडीटीवी इस लेख की किसी भी जानकारी की सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता, या वैधता के लिए जिम्मेदार नहीं है. सभी जानकारी एक आधार पर प्रदान की जाती है. लेख में दिखाई देने वाली जानकारी, तथ्य या राय एनडीटीवी के विचारों को नहीं दर्शाती है और एनडीटीवी उसके लिए कोई जिम्मेदारी या दायित्व नहीं मानता है.



Source link

Hindi News

Jharkhand: Ten Cyber Criminals Arrested In Deoghar – झारखंडः देवघर में दस साइबर अपराधी गिरफ्तार

Published

on

Jharkhand: Ten Cyber Criminals Arrested In Deoghar – झारखंडः देवघर में दस साइबर अपराधी गिरफ्तार


Jharkhand: Ten Cyber Criminals Arrested In Deoghar – झारखंडः देवघर में दस साइबर अपराधी गिरफ्तार

झारखंडः देवघर में दस साइबर अपराधी गिरफ्तार

देवघर:

झारखंड में देवघर जिले में बुधवार को विभिन्न गांवों में छापेमारी कर पुलिस ने ग्यारह मोबाइल फोन, सिम कार्ड, नकदी आदि के साथ दस साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इसकी जानकारी दी. देवघर के पुलिस अधीक्षक अश्विनी कुमार सिन्हा ने यहां संवाददाता सम्मेलन में बताया कि उन्हें मिली गुप्त सूचना के आधार पर जिले के सारवां थाना और मधुपुर थाना क्षेत्र के विभिन्न गांवों में छापामारी कर कुल दस साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है.

यह भी पढ़ें

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार साइबर अपराधियों के पास से पुलिस ने ग्यारह मोबाइल फोन, 18 सिम कार्ड, चार पासबुक, एक लैपटॉप, दस एटीएम, एक दोपहिया वाहन और नगद 8000 रूपया बरामद किया है.

अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार साइबर अपराधियों की पहचान चंदन कुमार (19) ग्राम-सरपत्ता, उत्तम कुमार ((19) ग्राम-खेरवा, चुन्नू कुमार (27), शेखर मंडल (20) दोनों ग्राम-गोंदलवारी, बबलू कुमार दास(19), अनिल कुमार दास (21) दोनों भाई, प्रमोद कुमार (19) तीनों ग्राम हेठ सरपत्ता, सभी थाना सारवां, उप्पो कुमार दास (21) ग्राम- भेडवा, थाना मधुपुर, के अलावा मतीन अंसारी (29) और सराफत अंसारी (24), दोनों ग्राम- ढोढरी, थाना-सिमुलतला, जिला- जमुई (बिहार) के रूप में पहचापन की गयी है.

मध्य प्रदेश: मुरैना में 20 से ज्यादा बाइक सवारों ने की फायरिंग



Source link

Continue Reading

Hindi News

Government Slipped In The Covid Crisis : Anupam Kher – छवि बनाने के अलावा जिंदगी में और भी बहुत कुछ है : क्‍या अनुपम खेर ने की केंद्र सरकार की आलोचना?

Published

on

Government Slipped In The Covid Crisis : Anupam Kher – छवि बनाने के अलावा जिंदगी में और भी बहुत कुछ है : क्‍या अनुपम खेर ने की केंद्र सरकार की आलोचना?


नई दिल्ली:

Corona pandemic: नरेंद्र मोदी सरकार की तारीफों के पुल बांधने के लिए जाने जाते रहे एक्‍टर अनुपम खेर (Anupam Kher)ने कोविड-19 संकट पर नियंत्रण के मामले में केंद्र सरकार पर कड़ी टिप्‍पणी की है. केंद्र में बीजेपी नीत सरकार का अब तक मजबूती से बचाव करते हुए आए अनुपम ने कहा कि उन्‍हें लगता है कि कोविड संकट में सरकार ‘फिसल’ गई और इसे जिम्‍मेदार ठहराना महत्‍वपूर्ण है. NDTV को दिए एक इंटरव्‍यू में उन्‍होंने कहा, ‘कहीं न कहीं वे लड़खड़ा गए..यह समय उनके लिए इस बात को समझने का है कि छवि बनाने के अलावा भी जीवन में और भी बहुत कुछ है. ‘

यह भी पढ़ें

अनुपम से पूछा गया कि क्‍या सरकार के प्रयास अपनी छवि बनाने के बजाय राहत उपलब्‍ध कराने पर अधिक केंद्रित होने चाहिए थे और कोविड से प्रभावित परिवार के हॉस्पिटल बेड के लिए गिड़गिड़ाते, शवों को नदी में बहते और मरीजों को संघर्ष करते हुए देखना उन्‍हें कैसा महसूस हुआ? सवाल पर इस बॉलीवुड एक्‍टर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि ज्‍यादातर केसों में आलोचना जायज थी और सरकार के लिए यह महत्‍वपूर्ण है कि वह ऐसा काम करे जिसके लिए लोगों ने उसे चुना है. मुझे लगता है कि केवल संवेदनहीन व्‍यक्ति ही ऐसे हालातों से अप्रभावित होगा.. बहते हुए शव लेकिन दूसरी राजनीतिक पार्टी के लिए इसे फायदे के लिए इस्‍तेमाल करना भी ठीक नहीं है.’

उन्‍होंने कहा, ‘नागरिक के तौर पर हमें नाराज होना चाहिए..यह जरूरी है कि जो कुछ हुआ, उसके लिए सरकार को जवाबदेह ठहराया जाए.’ 66 वर्षीय  एक्‍टर अनुपम की यह टिप्‍पणी अप्रत्‍याशित ही मानी जा सकती हैं, उनकी पत्‍नी किरण खेर बीजेपी सांसद हैं. गौरतलब है कि कोविड के हालात को नियंत्रित करने में सरकार की कथित नाकामी के बीच दो सप्‍ताह पहले ही अनुपम खेर को इस कमेंट ‘आएगा तो मोदी ही’ के लिए आलोचकों की खरीखोटी सुननी पड़ी थी. गौरतलब है कि कोरोना के दूसरी लहर के कारण देश की स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं पर भारी दबाव पड़ा है और बड़े शहरों के ज्‍यादातर अस्‍पताल बेड और ऑक्‍सीजन की कमी का सामना कर रहे हैं. अनुपम उन सेलिब्रिटीज में हैं जिन्‍होंने लोगों को राहत पहुंचाने के लिए प्रयास किए हैं. “Heal India” इनीशिएटिव (पहल) के जरिये वे उन लोगों को मदद पहुंचाने की कोशिश में जुटे हैं जिन्‍होंने वेंटीलेटर और ऑक्‍सीजन concentrators की जरूरत है. 



Source link

Continue Reading

Hindi News

46,781 New Cases And 816 COVID-19 Deaths Reported In Maharashtra In Last 24 Hours – महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के 46 हजार से ज्यादा नए मामले, पॉजिटिविटी दर 17.36 हुई

Published

on

46,781 New Cases And 816 COVID-19 Deaths Reported In Maharashtra In Last 24 Hours – महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के 46 हजार से ज्यादा नए मामले, पॉजिटिविटी दर 17.36 हुई


46,781 New Cases And 816 COVID-19 Deaths Reported In Maharashtra In Last 24 Hours – महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के 46 हजार से ज्यादा नए मामले, पॉजिटिविटी दर 17.36 हुई

मुंबई:

महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 46,781 मामले सामने आए. इसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 52,26,710 हो गई है. एक दिन पहले मंगलवार को राज्य में 40,956 नए मरीज मिले थे. वहीं पिछले 24 घंटे में 816 मरीजों की जान इस वायरस की वजह से चली गई जिसके साथ ही राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 78007 हो गई. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी.

यह भी पढ़ें

मंगलवार को राज्य में 40,956 नए मामले सामने आए थे और 793 मौतें दर्ज की गई थीं. वहीं 71,966 लोग ठीक भी हुए थे. पिछले 24 घंटे में दर्ज 816 मौतों में से 387 पिछले 48 घंटे के अंदर हुईं, 193 पिछले हफ्ते और बाकी उससे भी पहले, लेकिन उन्हें दर्ज बुधवार को किया गया.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Continue Reading

Trending