Connect with us

Hindi News

Innocent Girl Gives Stick To Police Cop Whose Duty During Corona Curfew See Viral Video – Corona कर्फ्यू में ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी को बच्ची ने हाथ में दिया डंडा, IPS ने दिया मजेदार रिएक्शन

Published

on

Innocent Girl Gives Stick To Police Cop Whose Duty During Corona Curfew See Viral Video – Corona कर्फ्यू में ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी को बच्ची ने हाथ में दिया डंडा, IPS ने दिया मजेदार रिएक्शन


Innocent Girl Gives Stick To Police Cop Whose Duty During Corona Curfew See Viral Video – Corona कर्फ्यू में ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी को बच्ची ने हाथ में दिया डंडा, IPS ने दिया मजेदार रिएक्शन

ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी को बच्ची ने हाथ में दिया डंडा, IPS ने दिया मजेदार रिएक्शन – देखें Video

सोशल मीडिया (Social Media) पर कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) में ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मी का एक वीडियो तेजी से वायरल (Viral Video) हो रहा है, जिसको देखकर आप भी हंस-हंसकर लोट-पोट हो जाएंगे. एक बच्ची ने बड़ी मासूमियत से पुलिसकर्मी के हाथ में डंडा थमा (Girl Gives Stick To Police Cop) दिया. इस वीडियो को आईपीएस ऑफिसर दीपांशु काबरा (IPS Officer Dipanshu Kabra) ने मजेदार कैप्शन के साथ शेयर किया है.

यह भी पढ़ें

वीडियो में देखा जा सकता है कि सड़क किनारे कई पुलिसकर्मी खड़े हैं. एक बच्ची हाथ में डंडा लेकर पुलिसकर्मी के पास आई. उसने बड़ी मासूमियत से पुलिसकर्मी के हाथ में डंडा थमा दिया. 10 सेकंड का वीडियो काफी पसंद किया जा रहा है.

आईपीएस ऑफिसर दीपांशु काबरा ने वीडियो शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, ‘मासूम बचपन भी हालात से वाकिफ़ है.’ साथ बी उन्होंने हंसने वाला इमोजी भी शेयर किया.

देखें Video:

इस वीडियो को उन्होंने 4 मई को शेयर किया था, जिसके अब तक 4 हजार से ज्यादा व्यूज हो चुके हैं. साथ ही 600 से ज्यादा लाइक्स और 80 से ज्यादा रि-ट्वीट्स हो चुके हैं. कमेंट सेक्शन में लोगों ने ऐसे रिएक्शन्स दिए हैं…





Source link

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Hindi News

46,781 New Cases And 816 COVID-19 Deaths Reported In Maharashtra In Last 24 Hours – महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के 46 हजार से ज्यादा नए मामले, पॉजिटिविटी दर 17.36 हुई

Published

on

46,781 New Cases And 816 COVID-19 Deaths Reported In Maharashtra In Last 24 Hours – महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के 46 हजार से ज्यादा नए मामले, पॉजिटिविटी दर 17.36 हुई


46,781 New Cases And 816 COVID-19 Deaths Reported In Maharashtra In Last 24 Hours – महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के 46 हजार से ज्यादा नए मामले, पॉजिटिविटी दर 17.36 हुई

मुंबई:

महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 46,781 मामले सामने आए. इसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 52,26,710 हो गई है. एक दिन पहले मंगलवार को राज्य में 40,956 नए मरीज मिले थे. वहीं पिछले 24 घंटे में 816 मरीजों की जान इस वायरस की वजह से चली गई जिसके साथ ही राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 78007 हो गई. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी.

यह भी पढ़ें

मंगलवार को राज्य में 40,956 नए मामले सामने आए थे और 793 मौतें दर्ज की गई थीं. वहीं 71,966 लोग ठीक भी हुए थे. पिछले 24 घंटे में दर्ज 816 मौतों में से 387 पिछले 48 घंटे के अंदर हुईं, 193 पिछले हफ्ते और बाकी उससे भी पहले, लेकिन उन्हें दर्ज बुधवार को किया गया.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Continue Reading

Hindi News

Delhi: Consultant Appointed To Relieve Stress Of Patients In ITBP S Covid-19 Centers – दिल्ली: आईटीबीपी के कोविड-19 केंद्रों में मरीजों का तनाव दूर करने के लिए परामर्शदाता नियुक्त

Published

on

Delhi: Consultant Appointed To Relieve Stress Of Patients In ITBP S Covid-19 Centers – दिल्ली: आईटीबीपी के कोविड-19 केंद्रों में मरीजों का तनाव दूर करने के लिए परामर्शदाता नियुक्त


Delhi: Consultant Appointed To Relieve Stress Of Patients In ITBP S Covid-19 Centers – दिल्ली: आईटीबीपी के कोविड-19 केंद्रों में मरीजों का तनाव दूर करने के लिए परामर्शदाता नियुक्त

दिल्ली में आईटीबीपी संचालित कोविड-19 केंद्र में मरीजों का तनाव दूर करने के लिए परामर्शदाता नियुक्त

नई दिल्ली:

दक्षिण दिल्ली में भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) द्वारा संचालित कोविड-19 केंद्र में मरीजों तथा उनके तीमारदारों का तनाव दूर करने के लिए वहां कम से कम 30 परामर्शदाता (स्ट्रेस काउंसलर) नियुक्त किये गये हैं. अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि इसके साथ ही यहां अब मरीजों को ‘‘निर्बाध” ऑक्सीजन उपलब्ध है. अधिकारियों ने बताया कि छतरपुर इलाके में 26 अप्रैल से शुरू हुए 500 बेड (बिस्तर) वाले ‘सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर’ (एसपीसीसीसी) में अभी कोरोना वायरस के करीब 357 मरीज हैं और अब यहां परिस्थितियां काफी हद तक ठीक हो गयी हैं. पीपीई किट पहने ये ”स्ट्रेस काउंसलर” (तनाव दूर करने वाले परामर्शदाता) पूरे परिसर का मुआयना करते हैं और सुबह मरीजों से बात करते हैं.

सीमा बल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘आईटीबीपी संभवत: एकमात्र सुरक्षा बल है, जिसके पास उसके अपने परामर्शदाता हैं. ये परामर्शदाता राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य और स्नायु विज्ञान संस्थान (निमहंस), बेंगलुरु से प्रशिक्षित हैं.” ये परामर्शदाता नियमित रूप पर जवानों से बात करते हैं लेकिन अब उन्हें एसपीसीसीसी में मरीजों और उनके तीमारदारों का तनाव तथा घबराहट दूर करने के लिए तैनात किया गया है. अधिकारी ने कहा, ‘‘कुछ बुजुर्ग या कमजोर मरीजों को केंद्र में तीमारदार रखने की अनुमति दी गयी है. ये परामर्शदाता उनसे हर विषय पर बात करते हैं… खुद को तंदुरुस्त रखने के लिए कसरत करने, दिमाग से डर को कैसे दूर रखें, घबराहट, बेचैनी और यहां तक कि वैश्विक स्तर पर कोविड-19 से निपटने के लिए क्या कुछ हो रहा है, जैसे विषयों पर बात करते हैं.”

उन्होंने बताया कि कुछ निश्चित दिन के अंतराल पर योग प्रशिक्षक एक बड़े से हॉल में मरीजों को योग भी कराते हैं. आईटीबीपी के एक प्रवक्ता ने बताया कि वरिष्ठ मनोचिकित्सक डॉ. प्रशांत मिश्रा के नेतृत्व में करीब 30 परामर्शदाताओं की एक टीम केंद्र में काम कर रही है. उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार द्वारा वित्तपोषित एवं संचालित केंद्र में करीब दो सप्ताह तक चिकित्सकीय ऑक्सीजन की कमी के चलते इसकी क्षमता अनुसार मरीजों को यहां भर्ती नहीं किया गया था. हांलाकि अब मरीजों को ‘‘निर्बाध” ऑक्सीजन उपलब्ध है.

केंद्र सरकार ने आईटीबीपी के डॉक्टरों और अर्द्ध चिकित्साकर्मियों के एक दल को इस केंद्र में भेजा गया है. पिछले साल भी कोरोना वायरस के मामले बढ़ने के दौरान इस टीम को मदद के लिए भेजा गया था. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार इस कोविड-19 के केंद्र में अब तक कुल 1,089 मरीज आये हैं, जिनमें 648 मरीजों को उपचार के बाद छट्टी दे दी गयी है और 84 मरीजों की मौत हुई है. इस बीच, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के विशेषज्ञों के एक दल ने बुधवार को एसपीसीसीसी का दौरा किया. प्रवक्ता ने कहा, ‘‘ इस दल ने केंद्र में स्वास्थ्य कर्मियों तथा अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मियों से बात की और केन्द्र में उपचार के मापदंडों, मरीजों के स्वास्थ्य से जुड़ा ब्यौरा और प्रशासनिक प्रबंध सहित केंद्र की सभी सुविधाओं पर गौर किया.”

देश प्रदेश : दिल्ली सरकार ने वैक्सीन सप्लाई को लेकर केंद्र पर साधा निशाना



Source link

Continue Reading

Hindi News

Covid Vaccination Campaign: NTPC Vaccines More Than 70 Thousand Employees And Their Dependents – कोविड टीकाकरण अभियान: एनटीपीसी ने 70 हजार से अधिक कर्मचारियों, आश्रितों को टीका लगवाया

Published

on

Covid Vaccination Campaign: NTPC Vaccines More Than 70 Thousand Employees And Their Dependents – कोविड टीकाकरण अभियान: एनटीपीसी ने 70 हजार से अधिक कर्मचारियों, आश्रितों को टीका लगवाया


Covid Vaccination Campaign: NTPC Vaccines More Than 70 Thousand Employees And Their Dependents – कोविड टीकाकरण अभियान: एनटीपीसी ने 70 हजार से अधिक कर्मचारियों, आश्रितों को टीका लगवाया

कोविड टीकाकरण अभियान: एनटीपीसी ने 70 हजार से अधिक कर्मचारियों, आश्रितों को टीका लगवाया

नई दिल्ली:

सार्वजनिक क्षेत्र की बिजली कंपनी एनटीपीसी (NTPC) ने बुधवार को कहा कि उनसे अपने 70 हजार से अधिक कर्मचारियों, श्रमिकों और उनके पारिवारिक सदस्यों को कोविड-19 की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) लगवाई है. एक बयान के मुताबिक देश भर के सभी संयंत्रों में बड़े पैमाने पर कोविड टीकाकरण अभियान (Corona Vaccination) चल रहा है, जिसमें एनटीपीसी के सेवानिवृत्त कर्मचारियों सहित कंपनी के सभी सहयोगी और उनके आश्रित भी शामिल हैं.

बयान के मुताबिक, ‘‘भारत की सबसे बड़ी एकीकृत ऊर्जा कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड ने अपने 70,000 से अधिक कर्मचारियों, श्रमिकों और उनके परिवार के सदस्यों को टीके लगवाएं हैं.” बयान में आगे कहा गया कि संबंधित राज्य प्रशासन के साथ मिलकर एनटीपीसी केंद्रों पर टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है. कंपनी ने सुनिश्चित किया है कि उसके अग्रिम पंक्ति में रहकर काम करने वाले कर्मचारियों, मौजूदा और सेवानिवृत सभी को टीका लगाया जाये. 

इसमें 60 वर्ष से ऊपर की आयु का सेवानिवृत स्टाफ और 45 वर्ष की उम्र से ऊपर के वर्तमान में काम कर रहा स्टाफ भी शामिल है. कंपनी ने 18 से 44 वर्ष के आयुवर्ग में भी पात्र कर्मचारियों को टीका लगाने का काम शुरू किया है. वक्तव्य के मुताबिक कंपनी के देशभर में फैले 72 स्थानों पर टीकारण अभियान चलाया जा रहा है. इसमें संयुकत उद्यम और अनुषंगी कंपनियां भी शामिल हैं. 

टीकाकरण अभियान के साथ ही एनटीपीसी ने कोविड- 19 से जुड़ी विभिन्न गतिविधियों के लिये एक कार्यबल का भी गठन किया है जो कि सातों दिन चौबीसों घंटे काम कर रहा है और कोविड मरीजों के लिये समन्वय का काम कर रहा है.

देश प्रदेश : दिल्ली सरकार ने वैक्सीन सप्लाई को लेकर केंद्र पर साधा निशाना

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Continue Reading

Trending