Connect with us

Hindi News

Mumbai: Now even children are suffering from coronavirus, need to be vaccinated – अब छोटे बच्चे भी कोरोना की चपेट में आ रहे, वैक्सीनेशन करने की जरूरत

Published

on

Mumbai: Now even children are suffering from coronavirus, need to be vaccinated – अब छोटे बच्चे भी कोरोना की चपेट में आ रहे, वैक्सीनेशन करने की जरूरत


Mumbai: Now even children are suffering from coronavirus, need to be vaccinated – अब छोटे बच्चे भी कोरोना की चपेट में आ रहे, वैक्सीनेशन करने की जरूरत

प्रतीकात्मक फोटो.

मुंबई:

कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण की तीसरी लहर बच्चों के लिए बड़ी मुश्किल बन सकती है, क्योंकि ना उनके लिए वैक्सीन है और ना ही इतनी बड़ी संख्या में अलग से ICU-कोविड वॉर्ड हैं. मौजूदा लहर में 10% बच्चे संक्रमित हो रहे हैं. पिछली लहर में यह संख्या 1 से 2% थी. इस बार बच्चों को ICU की भी ज़रूरत पड़ रही है. छह साल की बच्ची तृषा संजय कदम Multisystem inflammatory syndrome से ग्रसित है. यह ऐसी है बीमारी जो कोविड से संक्रमित बच्चों में देखी जा रही है. तृषा को ICU में भर्ती करना पड़ा. उसकी कोविड रिपोर्ट निगेटिव है पर एंटी बॉडी  पॉज़िटिव आई, यानी भर्ती होने के कुछ हफ़्ते पहले बच्ची को संक्रमण हो चुका था.

यह भी पढ़ें

बच्ची की मां अंकिता संजय कदम ने कहा कि ‘’बच्ची को फ़ीवर था, फिर पेट में दर्द हुआ. तकलीफ़ बढ़ी, तो हमने डॉक्टर को दिखाया. उसका ब्लड प्रेशर लो होने लगा, फ़ीवर बढ़ने लगा. डॉक्टर ने बहुत मदद की. जल्दी ICU में भर्ती करना पड़ा. डॉक्टर और स्टाफ़ की मदद से मेरी बच्ची रिकवर हो रही है. ये समझिए कि मेरी बच्ची का दूसरा जन्म हुआ है.”

मुंबई इंटेंसिव केयर के सचिव और स्पर्श चिल्ड्रन अस्पताल के क्रिटिकल केयर के प्रमुख डॉ अमीश वोरा बताते हैं कि तृषा का दिल सिर्फ़ 30-40% ही रिकवर हो पाया है. डॉ वोरा ने कहा कि ‘’बच्ची का ब्लड प्रेशर बहुत कम था, हमने ICU में भर्ती किया. ब्लड प्रेशर की तीन-तीन  दवाई देनी पड़ीं, स्टेरॉइड देना पड़ा,  वो भी हाईडोज़. हार्ट अभी भी पूरी तरह रीकवर्ड नहीं है. एक हफ़्ता हो गया है, अभी बच्ची दिखने में नार्मल लग रही है लेकिन उसका हार्ट अभी 30-40% ही चल रहा है. इसके लिए हमको फ़ॉलो अप करते रहना पड़ेगा, ताकि हार्ट जल्दी रिकवर हो.”

डॉक्टर बताते हैं कि पहले जहां 1 से 2% बच्चों में संक्रमण दिख रहा था, अब 10% में नज़र आ रहा है. थर्ड वेव की आशंका से बच्चों के लिए टीका ना होना चिंता की बात है.

मुंबई के मुलुंड के फोर्टिस अस्पताल शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ जेसल सेठ ने बताया कि ”पिछली बार की तुलना में इस बार बच्चों में कोविड का प्रभाव ज़्यादा दिख रहा है. ज़्यादातर बच्चे होम क्वारंटाइन या डॉक्टर की मॉनीटरिंग में ठीक हो जाते हैं, लेकिन इस बार बच्चों को भर्ती भी करना पड़ रहा है. कुछ में हम एडल्ट कोविड पैटर्न भी देख रहे हैं, लेकिन अभी भी ऐसे बच्चे ज़्यादा नहीं हैं जिनको सीवियर निमोनिया हो और ICU-O2 के बेड लगें. पर जब स्ट्रेन बदलेगा या थर्ड वेव में शायद ऐसे बच्चों की संख्या भी बढ़ जाएगी. बच्चों का वैक्सीनेशन ना होना भी एक कारण रहेगा कि थर्ड वेव में बच्चे ज़्यादा इंफेक्टेड हो सकते हैं.”

डॉ अमीश वोरा ने कहा कि ‘’पिछले साल 1 से 2% बच्चों को ही संक्रमण हो रहा था, लेकिन इस बार तो अफ़ीशियल डेटा बता रहा है कि 10% बच्चों को संक्रमण हो रहा है. दस एडल्ट के सामने एक बच्चा संक्रमित हो रहा है. बच्चों का वैक्सीन का ट्रायल तो अभी शुरू हो रहा है लेकिन थर्ड वेव तक देरी हो जाएगी इसलिए कुछ और तैयारियां बच्चों को देखते हुए करनी पड़ेंगीं. जैसे बच्चों के लिए ICU बहुत कम हैं, इसलिए जहां-जहां भी ICU हैं उनको बंद ना रखें फ़ंक्शनल रखें ताकि जिन बच्चों को ज़रूरत है इन्हें भर्ती कर सकें.”

मुंबई में बीते छह दिनों में 10 साल से कम के 411 बच्चे संक्रमित हुए हैं. तीसरी लहर को लेकर महाराष्ट्र में बच्चों के लिए अलग से कोविड वॉर्ड बनाने की तैयारी है. इस बीच एक्स्पर्ट्स की मांग है कि 18 साल से नीचे के लिए भी वैक्सीन जल्द से जल्द तैयार हो.



Source link

Hindi News

Two Arrested Including Journalist In Manipur Over Social Media Post On Death Of Bjp Leader – मणिपुर BJP अध्यक्ष की मौत पर किया था सोशल मीडिया पोस्ट, पत्रकार समेत दो गिरफ्तार

Published

on

Two Arrested Including Journalist In Manipur Over Social Media Post On Death Of Bjp Leader – मणिपुर BJP अध्यक्ष की मौत पर किया था सोशल मीडिया पोस्ट, पत्रकार समेत दो गिरफ्तार


Two Arrested Including Journalist In Manipur Over Social Media Post On Death Of Bjp Leader – मणिपुर BJP अध्यक्ष की मौत पर किया था सोशल मीडिया पोस्ट, पत्रकार समेत दो गिरफ्तार

पत्रकार वांगखेम को पहले भी उनके सोशल मीडिया पोस्ट के लिए 2 बार गिरफ्तार किया गया था.

इम्फाल:

मणिपुर में एक पत्रकार और एक राजनीतिक कार्यकर्ता को COVID-19 के कारण भाजपा के एक वरिष्ठ नेता की मौत पर विवादास्पद सोशल मीडिया पोस्ट लिखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने पत्रकार किशोरचंद्र वांगखेम और राजनीतिक कार्यकर्ता एरेंड्रो लीचोम्बम को गुरुवार रात उनके घरों से गिरफ्तार किया. राज्य BJP के उपाध्यक्ष उषाम देबन और महासचिव पी प्रेमानंद मीतेई ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी.

यह भी पढ़ें

स्थानीय कोर्ट ने दोनों को 17 मई तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया है. पुलिस शिकायत के अनुसार, दोनों ने प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सैखोम टिकेंद्र सिंह की मौत पर सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी पोस्ट की थी. जिसमें उन्होंने कहा था, “गोबर और गोमूत्र काम नहीं करते.” दिवंगत प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सिंह सेवानिवृत्त प्राध्यापक थे. 

gnvcgi2g

राजनीतिक कार्यकर्ता एरेंड्रो लीचोम्बम को गुरुवार रात गिरफ्तार किया गया.

पत्रकार वांगखेम को पहले भी उनके सोशल मीडिया पोस्ट के लिए दो अलग-अलग मामलों में दो बार गिरफ्तार किया गया था. मणिपुर में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार ने उनके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत देशद्रोह का आरोप भी लगाया था.

पिछले हफ्ते, वायरस से बचाव के लिए लोगों के एक समूह की गाय के गोबर से अपने शरीर को पोंछने की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से प्रसारित हुईं थीं.

विशेषज्ञों का कहना है कि ऐसे कोई सबूत नहीं है जो बताता हो कि गाय का गोबर वायरस के खिलाफ प्रभावी है. गायों की सुरक्षा और उसकी भलाई भाजपा के मुख्य एजेंडे में से एक है.



Source link

Continue Reading

Hindi News

Israel-Palestine Conflict: Israel Will Continue To Strike In Gaza, Says PM Benjamin Netanyahu – संघर्ष के बीच इजरायली PM नेतन्याहू के तल्ख तेवर, कहा- अभी खत्म नहीं हुआ है ऑपरेशन, ये तब तक चलेगा जब तक…

Published

on

Israel-Palestine Conflict: Israel Will Continue To Strike In Gaza, Says PM Benjamin Netanyahu – संघर्ष के बीच इजरायली PM नेतन्याहू के तल्ख तेवर, कहा- अभी खत्म नहीं हुआ है ऑपरेशन, ये तब तक चलेगा जब तक…


Israel-Palestine Conflict: Israel Will Continue To Strike In Gaza, Says PM Benjamin Netanyahu – संघर्ष के बीच इजरायली PM नेतन्याहू के तल्ख तेवर, कहा- अभी खत्म नहीं हुआ है ऑपरेशन, ये तब तक चलेगा जब तक…

(फाइल फोटो)

यरूशलेम:

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच विवाद (Israel-Palestine conflict) गहराता जा रहा है. इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) ने करीब एक हफ्ते से चले आ रहे संघर्ष के लिए हमास (Hamas) को जिम्मेदार ठहराया है. उनका आरोप है कि हमास ने इजरायल पर रॉकेट दागकर संघर्ष की शुरूआत की. नेतन्याहू ने शनिवार को कहा कि जब तक जरूरी होगा गाजा में हमले जारी रहेंगे और नागरिक को हताहत होने से बचने के लिए इजरायल पूरी कोशिश करेगा. 

 

समाचार एजेंसी रायटर्स के मुताबिक, नेतन्याहू ने एक टीवी स्पीच में कहा, “इस टकराव के लिए जो पक्ष जिम्मेदार है, वो हम नहीं हैं बल्कि हम पर हमला करने वाले हैं.” उन्होंने कहा, “अभी हम ऑपरेशन के बीच हैं, यह खत्म नहीं हुआ है और जब तक जरूरी होगा यह ऑपरेशन चलता रहेगा.”

यह भी पढ़ें

इजरायल के प्रधानमंत्री ने कहा, “हम हमास के विपरीत, लोगों को नुकसान पहुंचने से बचाने के लिए जितना संभव हो कर रहे हैं. हमास जानबूझकर आम लोगों के पीछे छिपकर उनको नुकसान पहुंचाने का इरादा रखता है. हम आंतकवादियों को निशाना बना रहे हैं.”

इजरायल और हमास के बीच चल रही जंग सातवें दिन भी जारी रही. इजरायल ने रविवार तड़के गाजा में हमास के प्रमुख के घर पर बमबारी की तो हमास ने तेल अवीव में रॉकेट दागे. फिलहाल इस संघर्ष पर विराम लगने के कोई संकेत नहीं मिल रहे हैं. स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि इजरायल की एयर स्ट्राइक में कम से कम चार फिलिस्तीनी नागरिकों की मौत हुई है और कई लोग घायल हुए हैं.



Source link

Continue Reading

Hindi News

Cyclone Tauktae Likely To Intensify In Next 24 Hours, Rescue Teams Deployed In 6 States – चक्रवात तौकते के अगले 24 घंटे में और तेज होने की संभावना, 6 राज्यों में बचाव दल तैनात

Published

on

Cyclone Tauktae Likely To Intensify In Next 24 Hours, Rescue Teams Deployed In 6 States – चक्रवात तौकते के अगले 24 घंटे में और तेज होने की संभावना, 6 राज्यों में बचाव दल तैनात


Cyclone Tauktae Likely To Intensify In Next 24 Hours, Rescue Teams Deployed In 6 States – चक्रवात तौकते के अगले 24 घंटे में और तेज होने की संभावना, 6 राज्यों में बचाव दल तैनात

Cyclone Tauktae: गुजरात के तट पर 17 मई की शाम तक पहुंचने का पूर्वानुमान है

नई दिल्ली:

Cyclone Tauktae: चक्रवात ‘तौकते’ के अगले 24 घंटों के दौरान और तेज होने की संभावना है. मौसम विभाग के ताज़ा रिपोर्ट के मुताबिक इसके गुजरात के तट पर 17 मई की शाम तक पहुंचने का पूर्वानुमान है. चक्रवात ‘तौकते’ गुजरात के पोरबंदर और महुवा के बीच गुजरात के तट को 18 मई की सुबह क्रॉस करेगा. इस दौरान इसकी रफ़्तार 175 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है. गुजरात के तटीय जिलों में भारी वर्षा होने की संभावना है, जिसमें जूनागढ़ और गिर सोमनाथ में अत्यधिक भारी वर्षा और सौराष्ट्र कच्छ और दीव जिलों में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा शामिल है, जैसे गिर सोमनाथ, दीव, जूनागढ़, पोरबंदर , देवभूमि द्वारका, अमरेली, राजकोट, जामनगर. 

यह भी पढ़ें

एनडीआरएफ ने छह राज्यों में 42 टीमों को पहले से तैनात किया है जो नावों, पेड़ काटने वालों, दूरसंचार उपकरणों आदि से लैस हैं और 26 टीमों को स्टैंडबाय पर रखा है. भारतीय तटरक्षक बल और नौसेना ने राहत, खोज और बचाव कार्यों के लिए जहाज और हेलीकॉप्टर तैनात किए हैं. सेना की वायु सेना और इंजीनियर टास्क फोर्स इकाइयां, नौकाओं और बचाव उपकरणों के साथ तैनाती के लिए तैयार हैं. मानवीय सहायता और आपदा राहत इकाइयों के साथ सात जहाज पश्चिमी तट पर स्टैंडबाय पर हैं. 

पश्चिम रेलवे ने गुजरात के तटीय इलाके में 17 और 18 मई को आने-जाने वालीं 56 ट्रेनों को रद्द कर दिया है या फिर उन्हें गंतव्य के पहले ही समाप्त करने का फैसला किया है.  गृह मंत्रालय ने 17 और 18 मई को उत्तर पश्चिमी अरब सागर और गुजरात तट से मछली पकड़ने का कार्य पूरी तरह से स्थगित करने की सलाह दी. प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री ने चक्रवात से जिन स्थानों के प्रभावित होने की संभावना है वहां के अस्पतालों में कोविड प्रबंधन, टीकाकरण, बिजली की कमी न हो, इसके उपाय और आवश्यक दवाओं के भंडारण के लिए विशेष तैयारियों की आवश्यकता पर बल दिया. 

 



Source link

Continue Reading

Trending