Connect with us

Hindi News

RBI new loan moratorium plan loan structuring scheme for small borrowers and MSMEs – RBI ने दी राहत, लाई नई लोन मोरेटोरियम स्कीम, इन्हें मिलेगा फायदा

Published

on

RBI new loan moratorium plan loan structuring scheme for small borrowers and MSMEs – RBI ने दी राहत, लाई नई लोन मोरेटोरियम स्कीम, इन्हें मिलेगा फायदा


RBI new loan moratorium plan loan structuring scheme for small borrowers and MSMEs – RBI ने दी राहत, लाई नई लोन मोरेटोरियम स्कीम, इन्हें मिलेगा फायदा

RBI ने कोरोना की दूसरी लहर के बीच आज आर्थिक मोर्चे पर कई घोषणाएं की हैं.

नई दिल्ली:

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने कोरोना की दूसरी लहर से आर्थिक मोर्चे पर जूझ रहे छोटे व्यापारियों को राहत देने के लिए बुधवार को अहम घोषणा की है. केंद्रीय बैंक ने अपनी वन-टाइम लोन रीस्ट्रक्चरिंग प्लान को फिर से खोल दिया है. आरबीआई ने 25 करोड़ रुपये तक कर्ज लेने वाले व्यक्तिगत, छोटे उधारकर्ताओं को ऋण के पुनर्गठन यानी लोन रीस्ट्रक्चरिंग का दूसरा मौका दिया, ऐसे बिजनेस जिन्होंने पहले फ्रेमवर्क के तहत इसका फायदा नहीं उठाया था, जो अब वो इस योजना का फायदा उठा सकते हैं.

इस योजना के तहत 25 करोड़ तक का कर्ज लेने वाले छोटे व्यापारियों सहित MSMEs यानी कि सूक्ष्म, लघु और मध्यम व्यापार संस्थाएं- जिन्होंने रीस्ट्रक्चरिंग का फायदा नहीं उठाया था और जहां 31 मार्च, 2021 तक लोन स्टैंटर्ड की श्रेणी में थे- उनको लोन रीस्ट्रक्चरिंग का सेकेंड राउंड में फायदा मिलेगा.

आज मीडिया को अपने संबोधन में आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि छोटे व्यापारियों और MSMEs- जो इस वक्त सबसे ज्यादा दबाव में चल रहे हैं, उन्हे राहत देने के लिए रेजॉल्यूशन फ्रेमवर्क 2.0 तैयार किया गया है. उन्होंने बताया कि इस प्रस्तावित फ्रेमवर्क के तहत रीस्ट्रक्चरिंग के लिए 30 सितंबर तक अपील की जा सकती है और इसे अगले 90 दिनों के भीतर लागू करना होगा.

आरबीआई गवर्नर ने कहा कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने नई अनिश्चितताएं पैदा कर दी हैं, ऐसे माहौल में सबसे ज्यादा असर छोटे उधारकर्ताओं, छोटे बिजनेस और MSMEs पर हो रहा है. उन्होंने कहा, ‘छोटे उधारकर्ता और छोटे व्यापार जिन्होंने रेजॉल्यूश फ्रेमवर्क 1.0 के तहत, (जिसमें दो सालों से कम की अवधि के लिए मोरेटोरियम की छूट मिली हुई थी) लोन रीस्ट्रक्चरिंग का फायदा उठाया था, अब कर्ज देने वाली संस्थाओं को अनुमति है कि वो अब ऐसी योजनाओं के तहत मोरेटोरियम पीरियड बढ़ाने या टेन्योर को कुल दो साल की अवधि तक बढ़ाने का कदम उठा सकते हैं.

और क्या घोषणाएं हुईं?

इसके अलावा आरबीआई गवर्नर ने बताया कि आरबीआई अर्थव्यवस्था में वित्तीय संसाधनों का प्रवाह बढ़ाने के लिए सरकारी प्रतिभूति खरीद कार्यक्रम (जी-सैप 1.0) के तहत 20 मई को 35,000 करोड़ रुपये की दूसरी खरीद करेगा. वहीं मेडिकल सर्विस सेक्टर को फंड की उपलब्धता बढ़ाने लिए घोषणा की गई है कि बैंक 31 मार्च 2022 तक अस्पतालों, ऑक्सीजन आपूर्तिकर्ताओं, वैक्सीन आयातकों, कोविड दवाओं को 50,000 करोड़ रुपये का कर्ज देंगे. 

आज आरबीआई ने केवाईसी अनुपालन मानदंडों को तर्कसंगत बनाने की घोषणा की, कुछ श्रेणियों के लिए वीडियो-आधारित केवाईसी का प्रावधान किया है. और राज्य सरकारों को 30 सितंबर तक ओवरड्राफ्ट सुविधा का लाभ उठाने के नियमों में ढील दी गई है.



Source link

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Hindi News

World Hypertension Day 2021: Do Not Ignore These 6 Symptoms Of High Blood Pressure In The Body, Eat These Foods To Control Blood Pressure

Published

on

World Hypertension Day 2021: Theme And A Few Important Facts


हाई ब्लड प्रेशर, हृदय रोग के लिए प्राथमिक जोखिम कारक है जिसे इसके अज्ञात लक्षणों के कारण साइलेंट किलर के रूप में भी जाना जाता है. यहां जानें हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण और इस दिन का इतिहास और महत्व.

विश्व उच्च रक्तचाप दिवस 2021 इतिहास | World Hypertension Day 2021 History

वर्ल्ड हाई ब्लड प्रेशर डे पहली बार 14 मई, 2005 को मनाया गया था, हालांकि, 2006 से, यह दिन 17 मई को मनाया जा रहा है. यह दिन हाई ब्लड प्रेशर के बारे में जागरूकता शुरू करने के लिए बनाया गया है क्योंकि लोगों को इस बीमारी के बारे में उचित जानकारी नहीं है.

विश्व उच्च रक्तचाप दिवस 2021 थीम | World Hypertension Day 2021 Theme

दुनिया भर में कम जागरूकता दर का मुकाबला करने के लिए इस साल की थीम “अपने रक्तचाप को सटीक रूप से मापें, इसे नियंत्रित करें, लंबे समय तक जीवित रहें” है. जो लोग हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित हैं वे सटीक स्वचालित रक्तचाप मापने के लिए फ्री ऑनलाइन क्लास ले सकते हैं.

उच्च रक्तचाप के लक्षण | Symptoms Of High Blood Pressure

जब तक अंग गंभीर रूप से प्रभावित नहीं हो जाते तब तक कोई विशिष्ट लक्षण नहीं होते हैं, लेकिन हम आपके लिए कुछ सामान्य संकेत और लक्षण लेकर आए हैं जो आपको सचेत कर सकते हैं:

– भयानक सिरदर्द

– धुंधली दृष्टि

– सांस फूलना

– थकान

– जी मिचलाना

– नाक से खून बहना

हेल्दी डाइट (Healthy Diet)

जो लोग हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित हैं, उन्हें हेल्दी भोजन करने की सलाह दी जाती है. मनोवैज्ञानिक के अनुसार, कई प्रकार के फूड्स हैं जो हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रख सकते हैं. उनमें- पत्तेदार साग, जामुन, ब्लूबेरी, लाल बीट्स, मलाई निकाला दूध, छाछ और दही, जई का दलिया, केला, सामन, मैकेरल, और मछली ओमेगा-3 एसिड के साथ, बीज, जौ, टमाटर, चोकरयुक्त गेहूं, ज्वार, बजरा, हरी मटर, खीरा, करेला, जई, मूंग की दाल, पोहा, प्याज, पपीता, अमला, हरा चना.

Increase Oxygen Level: कितना होना चाहिए ऑक्सीजन लेवल, शरीर में इसे कैसे ठीक रखें

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.



Source link

Continue Reading

Hindi News

Lucknow University Results: University Of Lucknow Has Released BA And BCA Results Know How To Check – Lucknow University Results: लखनऊ विश्वविद्यालय ने BA, BCA कोर्स का रिजल्ट किया जारी, ऐसे करें चेक

Published

on

Lucknow University Results: University Of Lucknow Has Released BA And BCA Results Know How To Check – Lucknow University Results: लखनऊ विश्वविद्यालय ने BA, BCA कोर्स का रिजल्ट किया जारी, ऐसे करें चेक


Lucknow University Results: University Of Lucknow Has Released BA And BCA Results Know How To Check – Lucknow University Results: लखनऊ विश्वविद्यालय ने BA, BCA कोर्स का रिजल्ट किया जारी, ऐसे करें चेक

Lucknow University Results: लखनऊ विश्वविद्यालय ने BA, BCA कोर्स का रिजल्ट जारी कर दिया है.

नई दिल्ली:

Lucknow University Results: लखनऊ विश्वविद्यालय ने कई अंडरग्रेजुएट कोर्स की सेमेस्टर परीक्षाओं के परिणामों की घोषणा कर दी है. जो छात्र बीए (ऑनर्स) पब्लिक पॉलिसी तीसरे और पांचवे सेमेस्टर, बीसीए और बीए कोर्स की पांचवें सेमेस्टर की परीक्षा के लिए उपस्थित हुए थे, वे अपना परिणाम आधिकारिक वेबसाइट lkouniv.ac.in पर ऑनलाइन देख सकते हैं. विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेजों के छात्रों के लिए भी ओड सेमेस्टर परीक्षा के परिणाम घोषित किए गए हैं.

यह भी पढ़ें

सेमेस्टर परीक्षा के परिणामों को देखने और डाउनलोड करने के लिए छात्रों को अपने रोल नंबर के साथ वेबसाइट पर भी लॉग इन करना होगा.

लखनऊ विश्वविद्यालय परीक्षा  के परिणाम स्कोर कार्ड के रूप में घोषित किए गए हैं, जिसमें छात्रों की डिटेल और सेमेस्टर परीक्षाओं में उनके द्वारा प्राप्त अंक शामिल हैं. बता दें कि विश्वविद्यालय 26 अप्रैल से अंडरग्रेजुएट सेमेस्टर के परिणाम जारी कर रहा है.

 Lucknow University Semester Exams Results: ऐसे चेक करें परीक्षा के परिणाम

– सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट  lkouniv.ac.in पर जाएं.

– अब रिजल्ट के लिए दी गई विंडो पर क्लिक करें. 

– अब छात्र अपनी आईडी या रोल नंबर डालें. 

– अब रिजल्ट के टैब पर क्लिक करें. 

– सेमेस्टर परीक्षा की मार्कशीट आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगी. 

 



Source link

Continue Reading

Hindi News

Gold Silver Price Today Updates 17th May 2021 Gold Prices Today Gold Silver Future Price Gold MCX – Gold Rate Today 17th May, 2021 : सोने-चांदी के दामों में तेजी, लेकिन कोरोना की चपेट में है बाजार

Published

on

Gold Silver Price Today Updates 17th May 2021 Gold Prices Today Gold Silver Future Price Gold MCX – Gold Rate Today 17th May, 2021 : सोने-चांदी के दामों में तेजी, लेकिन कोरोना की चपेट में है बाजार


आम सालों में उद्योग अक्षय तृतीया के दिन 25-30 टन का कारोबार करता था, लेकिन इस साल इसके मुश्किल से 3-4 टन तक पहुंचने का अनुमान है, क्योंकि ऑफलाइन बिक्री बुरी तरह से प्रभावित हुई है. 

हालांकि, शुक्रवार को आखिरी कारोबारी सत्र में सोने में आखिरकार तेजी देखी गई थी. वैश्विक कीमतों में सुधार के चलते शुक्रवार को सोने की कीमत 146 रुपए बढ़कर 47,110 रुपए प्रति दस ग्राम हो गई थी. चांदी भी 513 रुपए बढ़कर 70,191 रुपये प्रति किलो हो गई। इससे पिछले दिन चांदी 69,678 रुपये पर बंद इुई थी.

क्या हैं देश के अलग-अलग शहरों में सोने-चांदी के दाम

Good Returns वेबसाइट पर नजर डालें तो आज 24 कैरेट सोने की कीमत 1 ग्राम पर 4,607, 8 ग्राम पर 36,856. 10 ग्राम पर 46,070 और 100 ग्राम पर 4,60,700 चल रही है. अगर प्रति 10 ग्राम देखें तो 22 कैरट सोना 45,070 पर बिक रहा है.

अगर प्रमुख शहरों में गोल्ड की कीमतों पर नजर डालें तो दिल्ली में 22 कैरेट के सोने की कीमत 46,210 और 24 कैरेट सोने की कीमत 50,210 चल रही है. मुंबई में 22 कैरेट सोना 46,070 और 24 कैरेट सोना 46,070 पर चल रहा है. कोलकाता में 22 कैरेट सोना 46,110 रुपए है, वहीं 24 कैरेट सोना 49,920 रुपए हैं. चेन्नई में 22 कैरेट सोने की कीमत 45,210 और 24 कैरेट 49,320 रुपए पर है. ये कीमतें प्रति 10 ग्राम सोने पर हैं.

अगर चांदी की बात करें तो वेबसाइट के मुताबिक, प्रति किलोग्राम चांदी की कीमत 70,500 रुपए प्रति किलो है. दिल्ली में चांदी 71,000 रुपए प्रति किलो बिक रही है. मुंबई और कोलकाता में भी चांदी की कीमत यही है. चेन्नई में चांदी की कीमत 76,000 रुपए प्रति किलो है.

सोना वायदा कीमतों में तेजी

आखिरी कारोबारी सत्र में मजबूत हाजिर मांग के कारण सटोरियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे स्थानीय वायदा बाजार में सोने का भाव 104 रुपये की तेजी के साथ 47,542 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया था. मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में जून महीने की डिलिवरी के लिये सोने की कीमत 104 रुपये यानी 0.22 प्रतिशत की तेजी के साथ 47,542 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई। इसमें 7,560 लॉट के लिये कारोबार हुआ.

(भाषा से इनपुट के साथ)



Source link

Continue Reading

Trending